लिंग में वृद्धि (Enlargement of the penis) ling me varidhi

adhik jankari ke liye group join kare

health tips
Public group · 102k member
Join Group






लिंग के आकार के बारे में पुरुषों की चिंता ने नैदानिक रूप से गैर-सिद्ध 'पुरुष वृद्धि उत्पादों' में बहु मिलियन पाउंड के वैश्विक उद्योग को जन्म दिया है। लेकिन, व्यायाम स्थायी परिणाम के साथ लिंग को बढ़ाने का सबसे प्रभावी तरीका है। कई एशियाई और अफ्रीकी संस्कृतियों में सदियों से लिंग मोटा करने के व्यायाम का इस्तेमाल किया गया है।

जबकि कई पुरुष चिंता करते हैं कि, उनका लिंग बहुत छोटा है, अनुसंधान से पता चलता है कि अधिकांश पुरुषों के लिंग सामान्य हैं और उन्हें चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। ज्यादातर पुरुष जो अपने लिंग के आकार की चिंता करते हैं, उन्हें आम तौर पर ओवरॉल बॉडी इमेज इश्यू होते हैं।
अक्सर, परामर्श पीड़ितों को आत्मसम्मान बनाने, शरीर की छवि के बारे में विकृत विचारों को सुधारने और लोगों को आकर्षक बनाने के बारे में अधिक सीखने में मदद कर सकता है। इसलिए, अपने लिंग के आकार के बारे में चिंताओं वाले पुरुषों को अप्रभावी, महंगी और संभावित हानिकारक उपचार के साथ एक्सपेरिमेंट करने के बजाय स्वास्थ्य पेशेवर से बात करनी चाहिए। पुरुष अपने शरीर और मर्दानगी के बारे में अधिक आत्मविश्वास महसूस करने के लिए कई चीजें कर सकते हैं, जैसे कि:

अपने प्यूबिक बाल को ट्रिम करें - प्यूबिक बालों का बड़ा ढेर होने से आपका लिंग आकार में छोटा लग सकता है।

वजन कम करें - अपने लिंग पर लटका हुआ एक बढ़ा हुआ पेट आपके लिंग को छोटा दिखा सकता है।
फिट हो जाएँ - आकार में आने से आपको न केवल अधिक आकर्षक महसूस होगा, बल्कि यह आपके यौन जीवन में सुधार कर सकता है।

औसत लिंग का मोटाई क्या है?

औसत परिधि को निकालना भी मुश्किल है। कोई एकल माप नहीं है जो औपचारिक रूप से औसत लिंग परिधि के रूप में इस्तेमाल किया जा सके। लेकिन औसत सपाट मध्य शाफ्ट की परिधि लगभग 8 - 10 सेमी होती है। यदि आप अपने लिंग के आकार को बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, तो कोई मतलब नहीं है जब तक कि आप वास्तव में निष्पक्ष अपने परिणामों को मापते नहीं हैं।

अक्सर, पुरुष आकार को बढ़ावा देने के लिए व्यायाम करते हैं और वे छोटे या मध्यम लाभों की उपेक्षा करते हैं, क्योंकि उनकी उम्मीदें शीर्ष पर होती हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह याद रखना है कि घेर माप लेने के तरीकों में निरंतरता है। इसका मतलब है कि आपको हमेशा शाफ्ट के साथ एक ही बिंदु पर मापने की आवश्यकता होती है और हमेशा कठोरता के समान स्तर पर।

सर्वश्रेष्ठ पुरुष संवर्धन व्यायाम

अधिकांश महिलाओं के लिए लिंग के आकार की तुलना में किसी व्यक्ति के दिल का आकार अधिक महत्वपूर्ण होता है। फिर भी, चूंकि आकार पुरुषों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, यहां कुछ बढ़ाव अभ्यास दिए गए हैं, जो आपके लिंग को मोटा बनाने में आपकी सहायता कर सकते हैं। इन तकनीकों के साथ, सुरक्षित रहने के लिए सामान्य ज्ञान का उपयोग करें।

1. जेलकिंग:

जेलकिंग एक प्राचीन प्रथा है जो सैकड़ों वर्षों से इस्तेमाल किया जा रहा है। यह उपचार आपके लिंग में रक्त परिसंचरण और रक्तचाप को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जो स्वाभाविक रूप से समय के साथ दोनों लंबाई और परिधि में विस्तार कर सकता है।
- अपने लिंग पर स्नेहक लगा कर शुरू करें। नारियल तेल, पेट्रोलियम जेली, या बेबी ऑयल जैसे प्राकृतिक उत्पाद चुनें।
- इस अभ्यास को पार्शियल इरेक्शन के साथ करें।
- अपने अंगूठे और तर्जनी को एक साथ रखकर अपने हाथ से एक 'ओके' का चिह्न बनाएं।
- अपने लिंग के आधार पर इस ' ओके' पकड़ के साथ, जितना हो सके, पेल्विक हड्डी के करीब शुरू करें। हल्के दबाव के साथ, अपने 'ओके' पकड़ को लिंग के शाफ्ट पर ऊपर ले जाएं। अपने ग्लानों तक पहुंचने से पहले ही रुक जाएँ।
- 7-10 मिनटों के लिए यह अभ्यास करें।

2. स्क्वीज़िंग:
यह एक उन्नत तकनीक है, और बड़ी आसानी से ग़लत हो सकती है। यह परिधि के लिए सबसे प्रभावी व्यायाम भी है। यह फुल इरेक्शन के साथ किया जाता है।
- एक हाथ से, एक 'ओके' पकड़ बनाओ जैसा आप जेलिंग में करते हैं। आधार पर अपने लिंग को पकड़ने के लिए उस पकड़ का उपयोग करें।
- अपने दूसरे हाथ से भी, 'ओके' पकड़ बनाओ।
- अपने लिंग को अपनी लंबाई के साथ विभिन्न बिंदुओं पर निचोड़ने के लिए उस हाथ का उपयोग करें। लगभग हर एक इंच की वृद्धि पर ऐसा करें। ग्लॅन्स तक पहुंचने से पहले बंद करें।
स्क्वीज़िंग के साथ बहुत सावधान रहें!

लिंग का आकार प्राकृतिक रूप से किस तरह बढ़ाया जाए?
किस आकार का लिंग सामान्य माना जाता है? ऐसा कोई एक निश्चित मानक नहीं है। हालांकि, यह माना जाता है कि सामान्यतः भारतीय लिंग का आकार, उसकी खड़ी अवस्था में, 15 सेमी से शुरू होता है। इससे छोटा आकार असमान्य माना जा सकता है। इसके अलावा, इस आकार से बहुत सी महिलाएं संतुष्ट नहीं होंगी। सभी जानते हैं कि लंबे और मोटे लिंग वाले पुरुष के साथ ही महिला को सबसे उत्तेजक भावनाएं आती हैं।

प्रकृति माँ ने भले ही आपको बड़ा लिंग न दिया हो, पर आप इसे बेहतर कर सकते हैं। शुक्र है कि इसके लिए बहुत से तरीक़े हैं। सबसे लोकप्रिय तरीक़ों की यहाँ पर चर्चा करते हैं।



जेल्क्विंग
सर्जरी
लटकन के साथ खिंचाव
दवाइयों से लिंग की वृद्धि
पंप और एक्सटेंडर
लिंग वृद्धि के लिए जैल, लेप और क्रीम
एन्लार्जमेंट स्लीव्स
आहार
विभिन्न तरीक़ों को मिलाकर इस्तेमाल करने से परिणाम सबसे अच्छे मिलते हैं। 1-6 महीनों तक लगातार रोज़ इनका प्रयोग ज़रूरी है।

लिंग का आकार बढ़ाने वाले आहार
आहार की मदद से लिंग का आकार किस तरह बढ़ाया जाए? यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि आपके लिंग को बड़ा करने में खाद्य पदार्थों से सीधा असर नहीं होता। पर वे आपकी यौन क्षमता को कई गुना बढ़ा सकते हैं।

ये खाद्य पदार्थ आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर काफ़ी बढ़ा सकते हैं और साथ ही आपकी यौन शक्ति भी।

डेयरी उत्पाद। इनमें प्रोटीन बहुतायत में होता है, जो सभी अंगों व लिंग के ऊतकों समेत सभी ऊतकों के लिए निर्माण सामग्री के रूप में काम करते हैं। यदि आप डेयरी उत्पाद का सेवन करेंगे और साथ ही लिंग वृद्धि के तरीक़े इस्तेमाल करेंगे, वृद्धि की प्रक्रिया तेज़ हो जाएगी।
ताज़ा मछली। यह प्राकृतिक कामोत्तेजक पदार्थ है। इसमें जस्ता (ज़िंक) होता है, जो टेस्टोस्टेरोन के संश्लेषण बढ़ाता है।
मेवा। यह विटामिनों और स्वास्थ्यवर्धक वसा का अतिरिक्त स्रोत है।
खरबूज़ा, गाज़र, अवाकाडो, केला, आम, कद्दू और बेरी। इनसे कोशिकीय वृद्धि को बढ़ावा मिलता है।
सेलरी (अजमोद)। टेस्टोस्टेरोन जैसे वनस्पतीय पदार्थों का स्रोत है।
पॉरीज। इससे आँतों और लेसर पेल्विस (श्रोणि) में रक्त परिसंचरण बढ़ जाता है। साथ ही यह जननांगों में रक्त आपूर्ति करता है।
वनस्पतीय तेल। ये आपके शरीर से टॉक्सिन हटाते हैं और स्वास्थ्यवर्धक माइक्रो तत्वों का पाचन बेहतर करते हैं।

https://syndication.exdynsrv.com/splash.php?idzone=4215354
लिंग का आकार बढ़ाने के लिए व्यायाम
लिंग वृद्धि के लिए जेल्क्विंग सबसे लोकप्रिय व्यायाम है। यह भारत, अफ़्रीका और अरब देशों में सैकड़ों सालों से प्रचलित है।

जेल्क्विंग के लिए आपको ल्यूब (चिकनाई) की ज़रूरत होगी। जेल्क्विंग करते समय आपका लिंग पूरी तरह से खड़ा नहीं होना चाहिए। सामान्य रूप से जितना खड़ा होता है उसका 60-70% काफ़ी है। आपको अपने लिंग को हर रोज़ प्रशिक्षित करना होगा।

गर्म करना। अनाज या नमक को कड़ाही में गर्म कर लीजिए, फिर इन्हें एक छोटे बैग में डाल कर इससे लिंग को चारों ओर से सेंकिए।
ल्यूब (चिकनाई) के प्रयोग से अपने लिंग को थोड़ा खड़ा कीजिए। अपने लिंग को शरीर से जुड़े वाले भाग की ओर से पकड़कर उँगलियों से उसे घेरिए। उँगलियों से लिंग को धीरे-धीरे खींचते हुए लिंग के सिरे की ओर ले जाइए। इस प्रक्रिया को 40 बार दोहराइए और धीरे-धीरे इस संख्या को बढ़ाकर 200 बार कर दीजिए।
अपने लिंग को हथेली में पकड़ कर लगभग 10 सेकेंड के लिए कस कर दबाइए। उसे ऊपर, नीचे, दाएं और बाएं खींचिए।
जेल्क्विंग उतना प्रभावी नहीं होता है। आपको प्रारंभिक परिणाम 6 महीनों में दिखाई देंगे। इस तकनीक का इस्तेमाल करने वाले पुरुषों का कहना है कि आपका लिंग 1 सेमी तक बढ़ जाएगा। ल्यूब के स्थान पर लिंग वृद्धि के लिए विशेष जैल एक्स्ट्रा मेन (Xtra Man) का प्रयोग करने पर इस प्रक्रिया को तेज़ किया जा सकता है।

लटकन की मदद से लिंग में खिंचाव
लिंग के कॉरपोरा कैवरनोसा और लिगामेंट्स (स्नायुबंधन) के यांत्रिक खिंचाव पर आधारित यह तरीक़ा काफ़ी विवादास्पद और ख़तरनाक है। वज़न से लिंग में लंबाई में वृद्धि होती है, पर उसके घेरे में कोई अंतर नहीं आता है।

इस तरीक़े का प्रयोग कर किस तरह लिंग का आकार बढ़ाया जाए? मालिश करके अपने लिंग को थोड़ा गर्म कर लीजिए। लिंग के मुंड (ग्लैन्स) पर एक चिपकने वाला प्लास्टर लगाइए, और इसका प्रयोग करके एक डोरी जोड़ दीजिए। इस डोरी में एक छोटा सा वज़न लटका कर 15 मिनट तक घूमिए। धीरे-धीरे वज़न और घूमने के समय को बढ़ाते जाइए।

पंप और एक्सटेंडर
एक्सटेंडर (लंबा करने वाला) एक ऐसा उपकरण है जो आपके लिंग को न सिर्फ़ थोड़ा बड़ा कर देगा, बल्कि उसे सीधा भी कर देगा। एक्सटेंडर एक ऑर्थोपेडिक उपकरण है जो आपके लिंग के ऊतकों की प्राकृतिक रूप से वृद्धि करता है, जिससे लिंग का आकार बड़ा हो जाता है। 6-12 महीनों के दौरान एक्सटेंडर आपके लिंग से हर रोज़ कई घंटों तक जुड़ा रहना चाहिए। शुरू में आपको थोड़ा दर्द महसूस हो सकता है, जो 3-4 बार प्रयोग के बाद समाप्त हो जाएगा। दुर्भाग्य से एक्सटेंडर से प्राप्त परिणाम आजीवन नहीं रहते। इसका प्रयोग बंद करते ही 1-3 महीने के अंदर लिंग अपने प्रारंभिक आकार में पहुँच जाएगा।

वैक्यूम पंप से भी इसी तरह का प्रभाव मिलता है। यह बिल्कुल हवा के पंप की तरह होता है। हवा के दबाव से रक्त प्रवाह बेहतर हो जाता है और इससे लिंग बड़ा हो जाता है। 2-6 महीने के दौरान (प्रारंभिक स्थिति को देखते हुए) रोज़ाना पंप का प्रयोग करना ज़रूरी है। संभोग से कुछ मिनट पहले इसका प्रयोग बहुत असरदार होता है। पर जैसे ही आप पंप का प्रयोग बंद करेंगे, लिंग धीरे-धीरे अपनी पुरानी लंबाई चौड़ाई ले लेगा।



लिंग को बड़ा करने का दावा करने वाले, हाथ से बने लेपों और क्रीमों के बारे में आपको वास्तव में चिंतित होना चाहिए। यह स्पष्ट है कि घरेलू उत्पाद बिल्कुल असरदार नहीं होते हैं, और बेचने वालों का मुख्य उद्देश्य आपकी परेशानी से फ़ायदा उठाना है। इसके अलावा, आपको इससे नुकसान भी हो सकता है। घरेलू उत्पादों में अक्सर विषैले तत्व भी होते हैं, जिनसे लिंग में जलन, सूजन या पीपदार इंफ़ेक्शन भी हो सकते हैं।


वज़न की मदद से खींचना
लिंग के लिगामेंट (स्नायु) व इरेक्टाइल टिशू के खिंचाव पर आधारित, यह काफ़ी आपत्तिजनक और ख़तरनाक तकनीक है। वज़न से लिंग बाहर की ओर खिंच आता है, पर उसकी मोटाई उतनी ही रह जाती है।

इस तकनीक से लिंग का आकार कैसे ठीक किया जाए? लिंग की मालिश करके उसे गरमा लीजिए। लिंग के ऊपरी सिरे पर चिपकाने वाला टेप चिपका लीजिए, और उसमें जूते का एक फीता जोड़ दीजिए।

अब इस फीते में थोड़ा वज़न लटका कर 15 मिनट तक इधर-उधर घूमिए। धीरे-धीरे, वज़न और घूमने की अवधि बढ़ा दीजिए।

लिंग बढ़ाने के लिए दवाइयाँ
लिंग का आकार बढ़ाने के लिए दवाइयाँ (गोलियाँ, कैप्स्यूल आदि) दवाई की दूकानों में और ऑनलाइन स्टोर में आसानी से मिल जाती हैं। लाखों पुरुष सर्जरी और दर्दनाक मालिश के बजाय दवाइयों से अपने लिंग का आकार बड़ा करने का सपना देखते हैं। पर, अधिकतर चिकित्सकों को इन गोलियों के असर के बारे में संदेह है। सबसे पहली बात यह है कि इन गोलियों और कैप्स्यूल के साथ आधिकारिक दवा सूचना नहीं होती है। ये आमतौर पर अर्ध-कानूनी सुविधाओं या उससे भी बदतर जगहों में जैविक रूप से सक्रिय सप्लीमेंट्स बनाने वाले उत्पादकों द्वारा विकसित की जाती हैं।

कभी-कभी, प्रसिद्ध हारमोन दवाइयाँ (जिनमें टेस्टोस्टेरोन, वृद्धि के हारमोन या उनके अनुरूप होते हैं) भी लिंग बढ़ाने वाली दवाइयों के रूप में बेची जाती हैं। कृत्रिम हारमोन से वास्तव में यौन सामर्थ्य (मर्दानगी) बढ़ता है, और लिंग का आकार भी थोड़ा बढ़ जाता है। पर इन दवाइयों का सेवन एंडोक्रीनोलॉजिस्ट या चिकित्सक की देखरेख में होना चाहिए। चिकित्सक के पूर्व अनुमोदन के बिना हारमोनों के सेवन से गंभीर स्वास्थ्य संबंधी परेशानियाँ हो सकती हैं जैसे थ्रोम्बोसिस, गंभीर यकृत रोग और यहाँ तक कि मर्दानगी संबंधी समस्याएं।


  1. व्यायाम करे:
  2. फलों और सब्जियों का सेवन करे:
  3. खजूर खाए:
  4. मोटापा और शारीर की चर्बी कम करे:
  5. सिगरेट पीना बंद करे:
  6. तनाव कम करे:




  1. गोखरू – गोखरू एक स्वदेशी औषधी है और यह गर्म क्षेत्रों में पाई जाती है। हमारे देश में यह जड़ी बूटी आयुर्वेद में प्राचीन काल से ही प्रयोग में लाई जाती रही है। इसको शरीर की मजबूती व कमजोरी को दूर करने के लिए सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है।
    इस पर कई तरह के अध्ययन किए गए है जिनमें पाया गया कि गोखरू टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है। टेस्टोस्टेरोन पुरुष की यौन शक्ति, लिंग के आकार व उसकी कठोरता को बढ़ाने वाले हार्मोन होते हैं।
  2. जिनसेंग (Ginseng) - जिनसेंग दक्षिणी कोरिया, साइबेरिया व उत्तरी कोरिया में पाई जाने वाली औषधी है। इस जूड़ी बूटी में मौजूद तत्व हमारी नसों को ठीक करने का काम करते हैं। कुछ अध्ययन में पाया गया है कि यह यौन क्रिया में आने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए फायदेमंद होते हैं, जबकि इसके फायदों को लेकर चिकित्सा जगत में कोई ठोस आधार मौजूद नहीं हैं।
    जिनसेंग को कई दवाइयों में प्रयोग किया जाता है। इससे कैंसर, हृदय रोग, अनिद्रा व अन्य विकार होने की संभावनाए भी होती है। इस कारण इसको नियमित रूप से लेने से पहले आपको किसी डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए। (और पढ़ें - पहली बार सेक्स)
    ​अगर आप इस दवा को लेने वाले हों तो आपको इस दवा के लेबल या पैकेट पर “कोरियन जिनसेंग रूट” लिखा हुआ देखना चाहिए।
  3. गिंको बाइलोबा (Gingko Biloba) - गिंको बाइलोबा जड़ी बूटी दिमागी क्षमता को बढ़ाने का काम करती है। इसके अलावा यह हमारे शरीर और लिंग में रक्त के संचार में बढ़ोतरी करती है। लिंग को लंबा करने की दवा के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाता है। अध्ययन में पाया गया है कि सेक्सुअल क्रियाओं में आने वाली बाधा से होने वाले अवसाद को दूर करने के लिए गिंको बाइलोबा काफी फायदेमंद होती है। यह याददाश्त को बढ़ाने में भी मदद करती है। इसके अलावा इसके कुछ हानिकारक प्रभाव भी होते हैं। यह आपको चाय की पत्ती के साथ व गोलियों के रूप में भी बाजार आसानी से मिल जाती है।
  4. माका (Maca supplement) – लिंग के साइज को बढ़ाने के लिए माका के पाउडर का प्रयोग किया जाता है। इसको कामोत्तेजना बढ़ाने वाली दवाई माना जाता है। इसके अंदर ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो आपकी अंदरूनी शक्ति के स्तर को बढ़ाते हैं और पुरूषों के लिंग में होने वाली उत्तेजना को ठीक रखते हैं। इसके चलते इसका इस्तेमाल बड़ी संख्या में किया जाता है।
  5. एल-आर्गिनन (L-arginine) – लिंग लंबा करने की दवा के लिए इसका इस्तेमाल लंबे समय से किया जाता रहा है। यह एक तरह का अमिनो एसिड की तरह काम करता है, जो लिंग में उत्तेजना के दौरान उसको पूरा लंबा करने के लिए रक्त के प्रवाह को ठीक करता है। इसकी 1ग्राम खुराक को दिन में तीन बार लेना होता है। इसको नियमित रूप से लेने से आपके शुक्राणुओं की संख्या व प्रजनन क्षमता में सुधार आता है। यौन रोग के लिए व लिंग बढ़ाने की दवा के रूप में इसका प्रयोग किया जाता है।  अगर आप हृदय रोग की दवा ले रहें हैं तो इसका सेवन करने से बचें।



health tips
Public group · 1 member
Join Group